National

बांग्लादेश दौरे के वक्त हिंसा की साजिश

हिंसा विरोध का नतीजा नहीं थी, बल्कि इसके लिए साजिश रची गई थी 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बांग्लादेश दौरे से पहले और बाद तक वहां हिंसा की कई घटनाएं हुईं। कुछ संगठनों ने मोदी की इस यात्रा का विरोध किया। पुलिस के साथ झड़प में 12 लोग मारे भी गए। अब खुफिया एजेंसियों ने दावा किया है कि यह हिंसा विरोध का नतीजा नहीं थी, बल्कि इसके लिए साजिश रची गई थी। इसके पीछे प्रतिबंधित संगठन जमात-ए-इस्लामी का हाथ था। रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस, मीडिया और सरकारी ऑफिसों पर बड़े पैमाने पर हमले की तैयारी की गई थी। जमात-ए-इस्लामी ने इसके लिए बड़ी रकम का भुगतान किया, ताकि मोदी की यात्रा के दौरान लॉ एंड ऑर्डर का मुद्दा बनाकर शेख हसीना के नेतृत्व वाली सरकार पर सवाल उठाए जा सकें।  (ईएमएस)

Featured